HomeMutual fundMutual fund क्या है - कैसे 500 की SIP करोड़ों बन जाती...

Mutual fund क्या है – कैसे 500 की SIP करोड़ों बन जाती हैं

Stock खरीदने के दो तरीके होते है –

  1. Direct stock
  2. Mutual fund

इस पोस्ट में हम mutual fund के बारे में बात करेंगे। Mutual fund क्या होता है , Mutual fund कैसे काम करता है और भी बहुत सारी चीज़ें हैं।

Mutual fund क्या है ? आप अपने Investment strategy में direct stock खरीद सकते है , आपको अच्छे स्टॉक पिक करना नही आता है तो ऐसे बहुत सारे लोग है जो इसमें माहिर है तो क्यों न हम उनके ही portfolio को खरीद ले।

Mutual fund manager हमारे behalf में उस फंड को चलाते है , इसका साइज बहुत बड़ा होता है और जब हम mutual fund में इन्वेस्ट करते है तो हम उस फंड की unit को buy करते है , जिसे NAV कहा जाता हैं।

Mutual fund क्या है

Mutual fund एक ऐसा फंड होता है जिसमे लोग अपने पैसे इन्वेस्ट करते है , फंड मैनेजर उस पैसे को stocks , Fixed deposit , golds या corporate bonds में इन्वेस्ट करते हैं।

Mutual fund kya hai

अगर आप share market में beginner हो तो आपके लिए mutual fund बिलकुल सही है , यहां पे आप beginner होकर experts का फायदा ले सकते है।

Mutual fund is a brilliant way for you to enter the investing world.

Mutual fund कितने प्रकार के होते हैं

Largely तीन प्रकार के म्यूचुअल फंड होते है –

  • Equity mutual funds
  • Debt mutual funds
  • Hybrid mutual funds

Equity Mutual funds क्या है ?

ये वो म्यूचुअल फंड होते है जो बोलते है आपका पैसा Equity मतलब की stocks में लगाए जायेंगे। इनमे भी अलग अलग category होती हैं।

सबसे पहला large cap कंपनी , इसमें इंडिया की टॉप 100 कंपनिया आती है।

Low Risk

Mid cap कंपनी इसमें 101 से 200 तक की कंपनिया आती है।

Medium risk

और लास्ट में 200 के पार वाली कंपनी small cap में आती है।

High Risk

Debt mutual funds क्या है

Debt mutual fund कही न कही fixed deposit जैसा है चुकीं आप रिस्क कम ले रहे है तो आपको return भी कम ही मिलेगा। इसमें आपको एक assured income मिलती है।

Hybrid mutual funds क्या है

इस फंड में थोड़ा Equity भी होता है और थोड़ा debt भी होता है। इसलिए ये एक balanced funds होती हैं। अगर आप ज्यादा रिस्क नहीं लेना चाहते लेकिन debt जितना रिटर्न भी नही लेना चाहते है तो आपके लिए hybrid mutual funds बेस्ट रहेगा।

NAV क्या होता है

जैसे कम्पनी का शेयर price होता है वैसे ही mutual funds का NAV ( Net asset value ) होता है। आप या हम म्यूचुअल फंड में फंड के NAV खरीदते है , अगर एक NAV की price 20rs है और हमने 500rs इन्वेस्ट किया तो हमे 25 यूनिट मिलेंगी।

चुकी ये मार्केट में पैसा लगाती है इसलिए इसकी प्राइस बढ़ती और घटती रहती है।

Mutual funds पे tax

Equity और hybrid funds में same tax देना रहता है। अगर आपने एक साल से ज्यादा म्यूचुअल फंड को होल्ड करके रखा है और उसे बेचना चाहते है तो आप अपने प्रॉफिट के ऊपर tax देंगे। एक साल के ऊपर से Long term capital gain tax लिया जाता है जोकि 10% देना होता हैं।

अगर आप एक साल के अंदर ही sell कर देते हो तो आपको short term capital gain tax

Note – Tax हमेशा profit पे देना रहता है।

Mutual fund कैसे चुनें

Mutual funds खरीदने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि –

  • म्यूचुअल फंड किस कंपनी का हैं।
  • उस फंड के historic performance कैसे रहे हैं।
  • उस फंड के NAV के बारे में जानें।
  • Expense ratio कितना है।
  • उस फंड के Exit load के बारे में जानना चहिए।

Mutual fund कैसे खरीदें

आज के समय में हम दो तरह से म्यूचुअल फंड खरीद सकते है। दोनो के बारे में अच्छे से समझते है।

1.Agent या broker – ये तरीका बहुत पहले से चला आ रहा है लेकिन हमे इस तरीके से नही खरीदना है। इसमें एजेंट या ब्रोकर को ज्यादा कमीशन देनी पड़ती है , तो ये हमारे लिए नही है।

2.Direct buying fund’s – ऑनलाइन हम घर बैठे बैठे कम कमीशन को साइड के रखते हुए बिना किसी परेशानी के म्यूचुअल फंड खरीद सकते हैं। ऑनलाइन खरीदने से हमारा expense ratio कम हो जाता है।

Mutual fund खरीदने का तरीका

आज के समय में बहुत सारे लीडिंग ब्रोकर है जो 0% कमीशन के साथ खुलते है। वहां से आप आसानी से खरीद सकते है। मैं personally stock market या mutual fund में इन्वेस्ट करने के लिए Upstox को use करता हु। इन्वेस्ट करने के लिए Demat account खोल लीजिए क्योंकि उसके बिना आप कुछ नही कर सकते हैं।

अगर आपका डीमैट अकाउंट नही है तो ऊपर के लिंक से sign up करके क्योंकि बिना इसके आप म्यूचुअल फंड में निवेश नही कर पाएंगे।

Mutual funds में दो तरह से invest कर सकते हैं।

  • SIP
  • Lumpsum

SIP ( systematic investment plan ) – इसमें हमे हर महीने कुछ पैसे इन्वेस्ट करने होते है , ये बिलकुल आपके ऊपर है की आप अपना कितना का SIP शुरू करवाना चाहते है। अगर किसी महीने आपके पास पैसे नहीं है तो आप उस महीने इन्वेस्ट करे या ना आपके ऊपर हैं।

SIP के बहुत सारे फायदे है जैसे कि मार्केट ऊपर हो या नीचे आप हमेशा इन्वेस्ट करते रहते हो इसी करना से आपका protfolio अच्छा बनते चला जायेगा।

Lumpsum – इसका मतलब एक बार में इन्वेस्ट करना , अगर आपके पास ज्यादा सेविंग बच्चे हुए है तो आप lumpsum amount डाल सकते है।

FAQ

Mutual fund में कितना रिटर्न मिलता है ?

सारे म्युचुअल फंड को देखने के बाद आप average 10-12% का रिटर्न मान सकते है। किसी साल ज्यादा रिटर्न मिलेगा तो कभी कम , लेकिन हमे अपनी SIP जारी रखना चाहिए।

SIP जारी रखने के लिए पैसे नही है तो क्या होगा ?

कुछ नही होगा ये Investment है ना कि बैंक की EMI , आप जब चाहे इसे बंद कर सकते है।

आपने क्या सीखा

मैने इस पोस्ट के जरिए mutual fund क्या है और इसके बारे में जानकारी दी है। अगर आपका कोई दोस्त म्युचुअल फंड के बारे में जानना चाहता हो तो आप इसे शेयर कर सकते है।

म्यूचुअल फंड या stock market से रिलेटेड अगर कोई भी सवाल हो तो आप कॉमेंट में जरूर पूछे , आपके प्रश्न का उत्तर देने की कोशिश करूंगा।

Suryabhan Singh
Suryabhan Singhhttps://stockhub.in
An aspiring student formed and obsession with Investing and in a mission to solve your financial mystery and help you to achieve true freedom
RELATED ARTICLES

20 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular